June 15, 2024

WPL 2023:गुजरात जाएंट्स पर फिर भड़की डियांड्रा डॉटिन

1 min read
Spread the love

WPL 2023: मुंबई में खेले जा रहे पहले महिला प्रीमियर लीग में फैन्स को रोमांच का तड़का देखने को मिल रहा है. इस बीच महिला आईपीएल की सबसे महंगी टीम गुजरात जाएंट्स को लीग की शुरुआत में ही दोहरा झटका लगा था, जहां पर चोट के चलते उसकी कप्तान बेथ मूनी को पहले ही मैच के बाद बाहर होना पड़ा तो वहीं पर वेस्टइंडीज की विस्फोटक बैटर डियांड्रा डॉटिन को बिना कोई मैच खेले ही बाहर कर दिया गया था।

फ्रैंचाइजी का दावा फिटनेस सर्टिफिकेट नहीं होने के चलते किया बाहर

फ्रैंचाइजी ने अपने इस फैसले के पीछे बताया था कि उन्हें समय रहते डॉटिन के फिटनेस का सर्टिफिकेट नहीं मिल सका था जिसके चलते वो इस सीजन टीम के साथ नहीं खेल पाएंगी. हालांकि वो अगले सीजन से टीम का हिस्सा बनती नजर आएंगी. महिला प्रीमियर लीग से बाहर रहने पर निराशा जताते हुए डॉटिन ने कहा कि इसके लिये गुजरात जाएंट्स ने जो कारण बताया, वह हैरान करने वाला है।

60 लाख में फ्रैंचाइजी ने किया था शामिल

उल्लेखनीय है कि कैरिबियाई टीम की हरफनमौला खिलाड़ी डॉटिन को अडानी समूह की टीम ने 60 लाख रूपये में खरीदा था लेकिन टूर्नामेंट शुरू होने से पहले उन्हें चिकित्सा कारणों से बाहर कर दिया गया. जाइंट्स ने कहा डॉटिन निर्धारित समय सीमा तक चिकित्सा मंजूरी नहीं ले सकी जिसकी वजह से उनकी जगह आस्ट्रेलिया की किम गार्थ को शामिल किया गया।

डॉटिन ने फ्रैंचाइजी के दावों को बताया झूठ

हालांकि डॉटिन ने ट्विटर पर कहा ,’मैं पहली महिला प्रीमियर लीग से मेरे बाहर होने को लेकर लग रही अटकलों पर संक्षिप्त बयान देना चाहती हूं . मैं इस सबसे बहुत निराश हूं . मेरे बाहर होने का जो कारण बताया, वह हैरान करने वाला है. अडानी समूह की गुजरात जाइंट्स टीम ने लीग की नीलामी में मुझे खरीदा था. टूर्नामेंट शुरू होने से पहले फ्रेंचाइजी ने दावा किया कि मुझे चिकित्सा कारणों से बाहर रखा गया है. इसके बाद कहा गया कि मैं चिकित्सा मंजूरी नहीं ले सकी जबकि 20 फरवरी को ही मुझे वह मिल गई थी.’

टीम प्रबंधन के फैसले से हैरान हैं डॉटिन

वेस्टइंडीज के लिये 143 वनडे और 127 टी20 खेल चुकी डॉटिन ने कहा कि वह टीम प्रबंधन के फैसले से हैरान है .

उन्होंने कहा ,’ मैं स्पष्ट करना चाहती हूं कि मेरे पेट में हलका दर्द था और सूजन हो गई थी . मैने दिसंबर 2022 में इलाज कराया . इसके बाद विशेषज्ञों को दिसंबर और जनवरी में दिखाया . मुझे 13 फरवरी तक आराम के लिये कहा गया था और 14 फरवरी से मुझे फिटनेस गतिविधियों और खेलने की अनुमति मिल गई. मैने अभ्यास शुरू कर दिया. गुजरात जाइंट्स के फिजियो के साथ मैने पूरी ईमानदारी से सारी जानकारी साझा की लेकिन उसे तोड़ मरोड़कर पेश करके टीम प्रबंधन को बताया गया कि अभ्यास सत्र के बाद मुझे पेट में दर्द उठा है जबकि ऐसा नहीं था . बाद में टीम ने मुझे कनाडा में जांच कराने को कहा . मैने अपने डॉक्टर इयान लुईस से 20 फरवरी को मिली मंजूरी भी टीम को दी थी।

भारत विमर्श भोपाल मध्य प्रदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved Powered By Fox Tech Solution | Newsphere by AF themes.